“कोरोना तू हारेगा”

    1. “कोरोना तू हारेगा”

कोरोना तू हारेगा,
मेरा हिंदुस्तान जीतेगा,
हर घर में जब नव दीप जलेगा,
सारा जहां सोया होगा,
हिंदुस्तान जब जग रहा होगा,
न्ई उमंगें, न्ई तरंगें,
न्ई आशा, न्ई आकांक्षा,
नये-नये अरमान भरेगा,
हर घर में जब नव दीप जलेगा!

जात-पात मज़हब को भूलकर,
हिंदू -मुस्लिम एकजुट होकर,
मिलकर कोरोना से लड़ेगा,
त्याग -समर्पण का भाव भरेगा,
मानवता का संदेश जगेगा,
हर घर में जब नव दीप जलेगा,
कोरोना तू हारेगा,
मेरा हिंदुस्तान जितेगा!!

धर्म कभी खतरे में न होगा,
कहीं राम तो, कहीं रहीम होगा,
जन -जन का चेहरा खिलेगा,
एक नया विश्वास जगेगा,
तम के पीछे उजाला होगा,
कोरोना तू हारेगा,
मेरा हिंदुस्तान जीतेगा,
हर घर में जब नव दीप जलेगा!!!

प्लेग, चेचक जैसी महामारी,
भारत पड़ा था उन पर भारी,
अब कोरोना की आई हैं बारी,
हिंदुस्तान की जंग हैं जारी,
इतिहास में एक नया पाठ जुड़ेगा,
हर घर में जब नव दीप जलेगा!!!!
कोरोना तू हारेगा,
मेरा हिंदुस्तान जीतेगा!!!

🇮🇳🇮🇳🙏🏻🇮🇳🇮🇳📚✒️📚
Written:- by Vimla choudhary 🪔🪔🪔li>

About The Author(s)

Share Your Voice

Leave a Reply